BEd vs DELED NCTE Notice

BEd vs DELED NCTE Notice: एनसीटीई ने सभी राज्यों को भेजा ज्ञापन पत्र, सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर नोटिस जारी

BEd vs DELED NCTE Notice: एनसीटीई ने सभी राज्यों को भेजा ज्ञापन पत्र, सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर नोटिस जारी। पिछले लगभग एक महीने से या यूँ कहें 11 अगस्त से जब से सुप्रीम कोर्ट ने बीएड अभ्यर्थियों को प्राथमिक शिक्षक भर्ती से अयोग्य घोषित कर दिया है उसी दिन से BED बनाम BTC में एक से बढ़कर एक ख़बरें सुनने को मिल रही है।

ऐसी ही एक खबर अब सुनने को मिल रही है। जोकि पूर्ण रूप से सत्य है और यह खबर राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद के हवाले से निकल कर आ रही है। इस खबर में आपको बताएँगे कि NCTE ने समस्त राजरों को पात्र भेजते हुए कुछ बिंदुओं को औगत कराया है। जिसकी जानकारी आपको आगे प्रदान की गयी है।

BEd vs DELED NCTE Notice

दोस्तों जैसा कि आपको पता ही होगा कि अब बीएड के लिए प्राथमिक शिक्षक बनने के रास्ते सर्वोच्च न्यायालय द्वारा पूरी तरह से बंद कर दिए गए हैं। ऐसे में अभी तक का सबसे बड़ा सवाल यही था कि इसपर NCTE क्या विचार करती है। अगर तत्थ्य बताएं तो यह पहले ही क्लियर हो चुका था की NCTE भी सुप्रीम कोर्ट के फैसले को मानेगा।

अब वही बात सच हुई। क्योंकि NCTE ने सभी राज्यों के सम्बंधित विभागों को पत्र भेजा है जिसमे बीएड को पूरी तरह से प्राथमिक से बाहर करने के आदेश दिए हैं। NCTE ने लिखा कि समस्त विभागों को सुप्रीम कोर्ट के फैसले को अंतिम फैसला मानना होगा। सुप्रीम कोर्ट ने प्राथमिक के लिए BTC, BSTC, DELED को ही इसके लिए पात्र माना है।

सुप्रीम कोर्ट ने एनसीटीई का गजट किया ख़ारिज

इसके साथ ही आपको यह भी बताते चलें कि सुप्रीम कोर्ट में NCTE द्वारा याचिका डाली गयी थी जिसमें बीएड को प्राथमिक में योग्य माना जाये। जिसके लिए NCTE ने कहा था कि बीएड को बाद में 6 माह का ब्रिज कोर्स करवाया जायेगा। किन्तु सुप्रीम कोर्ट में NCTE के गजट को सिरे से ही ख़ारिज कर दिया गया। और अब NCTE ने कोर्ट के फैसले को मानते हुए सभी राज्यों को सुप्रीम कोर्ट के फैसले को मानने के लिए पत्र भी दिया है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.