CTET 2024 News

CTET 2024 News: केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए बने नये नियम, नये सत्र के सीटेट के नियमों में बड़े बदलाव पर मुहर

CTET 2024 News: प्राथमिक अथवा जूनियर में शिक्षक बनने के लिए राज्य तथा केंद्र स्तरीय शिक्षक पात्रता परीक्षा प्रतिवर्ष आयोजित करायी जाती है। जिसके क्वालीफाई करने के बाद ही शिक्षक भर्ती के लिए उम्मीदवार बना जा सकता है। इन पात्रता परीक्षाओं में प्रतिवर्ष कुछ न कुछ बदलाव किया जाता है। किंतु सीटेट एग्जाम में पिछले 3 वर्षों से हमेशा से यही संदेह रहता है कि पता नहीं कौन सा नियम कब बदल जाए।

ऐसा ही ठीक इस साल पहले चरण के सीटेट एग्जाम जॉकी जुलाई 2024 में आयोजित होने वाला है उसको लेकर कई अटकलें लगायी जा रही थीं। किंतु बोर्ड इसपर कोई भी प्रतिक्रिया नहीं दे रहा था। किंतु एक जानकारी के मुताबिक़ यह सुनने को मिला है कि जनवरी 2024 में हुई केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा में कुछ जगह गड़बड़ी की खबर सामने आयी थी। जिसके बाद कुछ नियम हैं जो बदले जा सकते हैं।

नये नियमों पर आधारित होगी सीटेट परीक्षा (CTET 2024 News)

जैसा कि आपको पता ही होगा कि सीटेट का आयोजन केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड करवाता है। यह परीक्षा प्रतिवर्ष दो बार आयोजित होती पहला जुलाई तथा दूसरा दिसंबर माह में। पिछले साल की दिसंबर माह की परीक्षा इस साल जनवरी की 21 तारीख़ को आयोजित हुई थी। जिसमें यह खबर सामने आयी कि सीटेट का पेपर लीक हो गया था। जिसके बाद से पुनः परीक्षा की माँग हो रही थी।

किंतु आधिकारिक बोर्ड ने इस शीरे से इंकार करते हुए सब कुछ सही तरह से संपन्न होने की पुष्टि की थी। जिसके बाद परीक्षा परिणाम आने के बाद भी यही आवाज़ उठ रही थी कि परीक्षा परिणाम जारी करने में भी गड़बड़ी हुई है। लेकिन अब रिजल्ट जारी किए जा चुके हैं। परीक्षा में हुई गड़बड़ी को बोर्ड ने भले ही नकार दिया हो किंतु सूत्रों की माने तो बोर्ड आगामी परीक्षा के लिए नयी योजना के तरह आवेदन आमंत्रित करने के लिए तैयार है।

इन नियमों में हो सकता है बदलाव

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन हमेशा से ऑफलाइन माध्यम से चलता आ रहा है। आपको बता दें 2 साल पूर्व कुछ परीक्षाएँ ऑनलाइन माध्यम से संपन्न करवायी गई थी। किंतु बोर्ड पुनः इसे ऑफलाइन माध्यम से शुरू कर दिया। इसलिए सबसे पहला नियम जिससे नक़ल से तथा लीक होने से कुछ हद तक बचाव किया जा सकता है इसमें बदलाव देखने को मिल सकते हैं।

इसके साथ ही वर्षों पुराने पैटर्न पर आयोजित होती चली आ रही सीटेट परीक्षा पैटर्न में भी बदलाव देखने को मिल सकता है। ऐसा इसलिए होने की संभावना है क्योंकि आपको पीटीए होगा सीटेट में प्रतिवर्ष लाखों अभ्यर्थी शामिल होते हैं। ऐसे में नयी शिक्षा नीति के आधार पर समस्त अभ्यर्थियों के लिए पैटर्न में कुछ बदलाव करके रुचिकर बनाया जा सकता है।

Similar Posts