50k BEd Shikshak Bharti

50k BEd Shikshak Bharti: बीएड अभ्यर्थियों को मिली खुशखबरी, 1 लाख शिक्षक भर्ती में 50 हज़ार बीएड अभ्यर्थियों को मिलेगा मौका

50k BEd Shikshak Bharti: बीएड अभ्यर्थियों को मिली खुशखबरी, 1 लाख शिक्षक भर्ती में 50 हज़ार बीएड अभ्यर्थियों को मिलेगा मौका। बिहार में सरकारी शिक्षक बनने के लिए हाल ही में भर्तियाँ निकाली गयी थी जिसके लिए काउंसलिंग की प्रक्रिया जारी है। आपको बता दें बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित इस परीक्षा बिहार के साथ अन्य राज्यों के अभ्यर्थियों को भी मौका मिला है।

लेकिन इस भर्ती से अगर कोई वंचित रह गया तो वे बीएड के अभ्यर्थी हैं। जिन्हे प्राथमिक शिक्षक भर्ती से 11 अगस्त के सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद प्राथमिक से बाहर कर दिया गया। किन्तु अब बीएड अभ्यर्थियों के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी मिलने वाली है। क्योंकि नवम्बर तक एक बड़ी भर्ती में बीएड शामिल होने जा रहा है।

50 हज़ार से अधिक बीएड अभ्यर्थियों को मिलेगा मौका (50k BEd Shikshak Bharti)

आपको बता दें जिस प्रकार से प्राथमिक भर्ती परीक्षा से पहले बीएड अभ्यर्थियों को सदमा दिया गया है वह समस्त बीएड डिग्रीधारियों के लिए चिंताजनक है। यह सब देखते हुए बिहार लोक सेवा आयोग ने यह घोषणा कर दी थी कि वह नवंबर तक एक और बड़ी शिक्षक भर्ती का आयोजन करेगा जिसमें करीब 52000 पद जूनियर शिक्षक भर्ती के होंगे। जिसमें बीएड व बीटीसी दोनों आवेदन कर सकेंगे।

CTET Application Notice 2024: अगले साल होने वाली सीटेट परीक्षा में होंगे कई बड़े बदलाव, बोर्ड द्वारा अभ्यर्थियों को मिली चेतावनी

आपको बता दें बिहार लोग सेवा आयोग ने हाल ही में 1.70 लाख पदों पर शिक्षक भर्ती जारी की थी। जिसमे प्राथमिक के लिए लगभग 80 हजार पद निर्धारित किए गए थे। आयोग द्वारा कुछ दिनों पहले ऑफिशियल घोषणा की गई थी जिसमें बताया गया था कि आगामी भर्ती नवम्बर माह तक निकाली जाएगी जिसमें कुल पद 1 लाख होंगे। इसमें 52000 पद जूनियर के शिक्षकों के लिए होंगे तथा बाकी 9 से 12 तक के शिक्षक पदों पर नियुक्ति के लिए होंगे।

BPSC द्वारा बीएड अभ्यर्थियों के लिए यह एक बड़ी भर्ती हो सकती है। किन्तु इसके लिए आवेदन करने वालों के पास जूनियर लेवल का अर्थात CTET Paper 2 क्वालिफिकेशन होना चाहिए। क्योंकि ध्यान रहे जूनियर के लिए 6 से 8 तक की कक्षाओं में जोइनिंग होती है इसके लिए जूनियर लेवल की शिक्षक भर्ती परीक्षा पास होना चाहिए।

Similar Posts

3 Comments

  1. बिहार सरकार बेरोजगारों पर ध्यान दे रही है। लेकिन ऊपी के बीजेपी सरकार कोई भरती नही निकाला और शिक्षक अभियर्थियों का तो जीवन ही खराब कर दिया । बिाहार मे शिक्षक पर शिक्षक भरती निकल रहा है । और ऊपी मे केवल बुलदोजर, हिंसा, राजनितिक ज्ञान पेला जा रहा हैं । हिन्दु मुस्लिम किया जा रहा हैं । ऊपी मे भी 2 लाख प्राइमरी और उच्च प्राथमिक् शिक्षकों की भरती निकाली और की जानी चाहिए । उसमे बीएड वालों की प्राथीमिकता दी जानी चाहिए ।

  2. नागेन्द्र चतुर्वेदी गोरखपुर says:

    आज राजनैतिक विफलता के कारण बहुत सारे बीएड डिग्री धारकों का भविष्य खतरे में है उनके सामने परिवार को चलाने के लिए भी सोचना पड़ रहा है सरकार को चाहिए कि जब तक बीएड डिग्री धारकों को नियुक्ति कहीं नहीं मिल जाती तब तक बीएड या किसी भी तरीके का डिग्री वगैरह या परिक्षा का आयोजन न करें सबसे पहले जो लोग क्वालीफाई कर चुके हैं उनके जगह सुनिश्चित करें अगर ऐसा नहीं होता तो सरकार को सभी बीएड डिग्री धारकों को तब तक के लिए एक निश्चित रकम देने की व्यवस्था की जानी चाहिए |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.