UP Shikshak Bharti for 126000 Posts

UP Shikshak Bharti: यूपी में 126000 पदों पर होगी प्राथमिक शिक्षक भर्ती, सरकार ने ब्यौरा जारी किया

UP Shikshak Bharti: यूपी में 126000 पदों पर होगी प्राथमिक शिक्षक भर्ती, सरकार ने ब्यौरा जारी किया। प्राथमिक शिक्षक भर्ती की तैयारी  यूपी के युवाओं के लिए राज्य सभा से एक गुड न्यूज़ मिली है। आपको बता दें की राज्यसभा में शिक्षकों के खाली पदों का ब्यौरा माँगा गया था जिसके जवाब में सरकार ने कुल 1 लाख 26 हज़ार खाली पदों का ब्यौरा पेश किया है। हालाँकि कुछ समय पहले इन पदों की संख्या 2,65,000 थी। लेकिन 1 लाख 39 हज़ार पदों को घटा देने के पीछे क्या कारण रहा यह फिलहाल किसी को नहीं पता है।

विगत वर्षों में खाली पदों का ब्यौरा

अगर हम बात करें खाली पदों की तो विगत वर्षों में इनकी संख्या काफी अधिक थी। और हम समझ सकते हैं कि लॉकडाउन पीरियड के दौरान बहुतों ने नौकरी छोड़ी। इसके बावजूद खाली पदों की संख्या बढ़ने के बजाय कम कैसे हो गयी। यूपी सरकार तथा सम्बंधित बोर्ड को इसका पूरा ब्यौरा पेश करना चाहिए।

Read More- रेलवे ने गरीब छात्रों को दिया झटका, ख़त्म किया रिजर्वेशन की व्यवस्था।

क्योंकि पिछले करीब 5 सालों से प्रदेश में कोई भी शिक्षक भर्ती नहीं हुई है ऐसे में बहुत से शिक्षक रिटायर भी हुए हैं। उनके ही खाली पदों को जोड़ा जाये तो भर्ती में पदों की संख्या में वृद्धि की जा सकती है। पदों की संख्या कम होने से पूरा का पूरा प्रभाव सालों से तैयारी करने अभ्यर्थियों पर ही पड़ेगा। क्योंकि पदों की कम रिक्ति आने पर प्रतियोगिता काफी कठिन होगी।

शिक्षकों के 1 लाख 39 हज़ार पद हुए गायब

उत्तर प्रदेश में इन दिनों सबसे ज्यादा इंतजार सुपर टेट शिक्षक भर्ती है। क्योंकि पिछले 5 सालों से युवाओं ने बस तैयारी की है। भर्ती परीक्षा देने का मौका नहीं मिला। इसके बाद भी उनके हिस्से के 1 लाख 39 हज़ार पदों को कम कर दिया गया। आइये आगे देखते हैं कि 2020 से खाली पदों की सँख्या कितनी थी?

  1. 2020-20 में स्वीकृत पदों की संख्या 7,19,399 थी जबकि कार्यरत 5,24,401 थे। इस हिसाब से खाली पदों की संख्या हो जाती है 1,94,998.
  2. 2021-22 में स्वीकृत पद 7,19,399 थी और कार्यरत 4,53,594 थे। इस शैक्षिक सत्र में कुल खाली पदों की संख्या थी 2,65,805.
  3. 2022-23 में स्वीकृत पद 5,79,622 हो गयी। जबकि कार्यरत शिक्षकों की सँख्या की सँख्या 4,53,594 है और रिक्तियों की सँख्या 1,26,028 है।

Read More- TGT PGT परीक्षा तिथि को लेकर आयी बड़ी अपडेट, आयोग का नोटिस जारी।

अब यहाँ सबसे बड़ा सवाल यही आता है कि शैक्षिक सत्र 2021-23 तक कोई भी भर्ती नहीं होने के बावजूद भी पदों की सँख्या बढ़नी थी लेकिन कम हो गयी। इसका ब्यौरा शिक्षा मंत्रालय को पेश करना चाहिए। कहा यह जा रहा है कि छात्रों का सत्यापन आधार सँख्या के आधार पर कराये जाने के कारण ही पदों की संख्या में कमी हुई है। परन्तु इस बात से युवाओं का क्या दोष है। अब देखना होगा आगे क्या होता है।

यूपी में 126000 पदों शिक्षक भर्ती (UP Shikshak Bharti for 126000 Posts)

राज्य सभा में शिक्षा मंत्रालय द्वारा 2 अगस्त को खाली पदों का ब्यौरा पेश किया था। जिसमे कहा गया था कि प्रदेश में कुल 126000 शिक्षकों के खाली पदों को भरा जायेगा। अतः यह तो क्लियर हो गया है कि कितने पदों को भरा जायेगा। परन्तु इन पदों को कितनी बार में भरा जायेगा इसका जवाब तो शिक्षक भर्ती आने के बाद ही पता किया जा सकता है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.